जाने क्यूँ दुनिया तेरी हर बात से ख़फ़ा है,तुझे सारे ज़माने की फ़िक्र है मगर फिर भी तू बेवफ़ा है ।

जाने क्यूँ दुनिया तेरी हर बात से ख़फ़ा है,तुझे सारे ज़माने की फ़िक्र है मगर फिर भी तू बेवफ़ा है ।

0 comments: