हर चेहरे को पढ़ते रहे मगर हर चेहरे में एक चेहरा छुपा था,लोग देखते रहे उनकी ख़ूबसूरती को मगर दिल में तो कोहराम मचा था ।

हर चेहरे को पढ़ते रहे मगर हर चेहरे में एक चेहरा छुपा था,लोग देखते रहे उनकी ख़ूबसूरती को मगर दिल में तो कोहराम मचा था ।

0 comments: