जानिब ए यार जाम न बनो | अभी बाकी है अरमान~ यूं बर्बाद न करो ।

जानिब ए यार जाम न बनो | अभी बाकी है अरमान~ यूं बर्बाद न करो ।

0 comments: