शर्मीदगी भी क्या चीज है शर्मीदा भी तब करती है जब अपने ही अपनो पे तौहमते लगाऐ !

शर्मीदगी भी क्या चीज है शर्मीदा भी तब करती है जब अपने ही अपनो पे तौहमते लगाऐ !

0 comments: