हमने हमेशा अपनी ज़िंदगी को ताक प रखा, लोग रिश्ते बनाते गए मुस्कुराकर और हमने उनके हाथो में हाथ रखा ।

हमने हमेशा अपनी ज़िंदगी को ताक प रखा, लोग रिश्ते बनाते गए मुस्कुराकर और हमने उनके हाथो में हाथ रखा ।

0 comments: