अपनोका वक़्त प हाथ छूटगयाऔर आइनेके दरारको देखनेलगे,कैसेटूट जातेहै रिश्ते अपनोसे जबगुलाब हाथोंमें लियातो जानपाए कैसे टहनियोंसे गुलाब टूटनेलगे

अपनो का वक़्त प हाथ छूटगयाऔर आइनेके दरारको देखनेलगे,कैसेटूट जातेहै रिश्ते अपनोसे जबगुलाब हाथोंमें लियातो जानपाए कैसे टहनियोंसे गुलाब टूटनेलगे

0 comments: