दफ़्न रखने पड़ते है कुछ जज़्बात सीने मे , वरना जले तो , तो तोहमतें उठती है हमपे !

दफ़्न रखने पड़ते है कुछ जज़्बात सीने मे , वरना जले तो , तो तोहमतें उठती है हमपे !

0 comments: