सकल सूरत में क्या रखा है जनाब....

सकल सूरत में क्या रखा है जनाब....
असली पहचान तो काबिलीयत से होती है....!!

0 comments: